लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को कहा कि उनकी सरकार दोनों गौहत्या और उनकी तस्करी की जाँच दूसरे राज्यों में करने में सक्षम है।
आदित्यनाथ ने कहा, “उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में कार्यभार संभालने से पहले गायों को दूसरे देशों में भेजा जा रहा था। मेरे लिए यह एक चुनौती थी कि मैं अपनी पूरी क्षमता के साथ पवित्र पशु की रक्षा करूं।”
उन्होंने कहा कि आवारा पशुओं की रक्षा के लिए उठाए गए कदमों में फल और 5.24 पैदा हुए हैं लाख गायें सरकार द्वारा संचालित आश्रयों में रखे गए हैं, जबकि उनमें से आठ लाख से अधिक को रखा गया है ‘कान्हा उपवन‘, राज्य में स्थानीय निकायों द्वारा चलाए जा रहे गाय आश्रय।
एक दिन पहले शनिवार को अपने आधिकारिक निवास पर एक पुस्तक विमोचन समारोह में बोलते हुए ‘Gopashtami‘, गायों और भगवान को समर्पित एक त्योहार कृष्णामुख्यमंत्री ने गायों के धार्मिक महत्व को रेखांकित किया।
उन्होंने कहा कि ‘गोपाष्टमी’ हजारों वर्षों से चली आ रही परंपरा है।
आदित्यनाथ ने शिवानी शर्मा द्वारा लिखित पुस्तक ‘गौ-लोक की ओरे’ का विमोचन किया। यूपी सरकार शनिवार को यहां जारी एक बयान में कहा गया।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here