बिहार के बाराचट्टी वन क्षेत्र में हुई मुठभेड़ में तीन माओवादी मारे गए। (रिप्रेसेंटेशनल)

नई दिल्ली:

शनिवार की देर रात बिहार के गया जिले में सुरक्षा बलों के एक तलाशी अभियान के दौरान गोलाबारी शुरू होने पर तीन माओवादी मारे गए।

आग के बदले में मारे जाने वालों में माओवादी जोनल कमांडर आलोक यादव भी थे।

205 CoBRA (कमांडो बटालियन फॉर रेसोल्यूट एक्शन) के सैनिकों और बिहार पुलिस ने मुठभेड़ स्थल से एक AK-47 राइफल और एक INSAS राइफल भी बरामद की।

मुठभेड़ बिहार के गया जिले के बाराचट्टी वन क्षेत्र में हुई – राज्य की राजधानी पटना से लगभग 100 किलोमीटर दूर।

एक आधिकारिक बयान के अनुसार, सुरक्षा बलों ने 12.20 बजे के आसपास सर्च ऑपरेशन शुरू किया, जिसमें बताया गया था कि यादव ने इलाके में दो व्यक्तियों की हत्या कर दी थी।

Newsbeep

आधिकारिक विज्ञप्ति में लिखा है, “आज सुबह महुरी गांव क्षेत्र में 205 कोबरा कमांडो और माओवादियों के बीच आग का आदान-प्रदान हुआ, जब एक मंदिर के पास एक सांस्कृतिक कार्यक्रम चल रहा था।”

सर्च ऑपरेशन जारी है और आगे की जानकारी का इंतजार है।

CoBRA या कमांडो बटालियन फॉर रिजॉल्यूट एक्शन केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की एक विशेष जंगल युद्ध इकाई है जो राज्य में नक्सल विरोधी अभियानों के लिए तैनात है।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here